✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

नेहा बंसल आईएएस की पुस्तक पर हुई विशेष चर्चा

Advertisement

नई दिल्ली: दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी , केंद्रीय पुस्तकालय द्वारा उसके परिसर के गीतांजलि ऑडिटोरियम में नेहा बंसल आईएएस द्वारा लिखित पुस्तक हरस्टोरी पर एक विशेष चर्चा का कार्यक्रम का आयोजन दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी के महानिदेशक डॉ0 आर० के० शर्मा के निर्देशन में किया गया अपने स्वागत भाषण में बताया कि इस तरह के कार्यक्रम आयोजन दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी का एक नया सकारात्मक आरम्भ है जो लाइब्रेरी के पाठकों को एक नयी दिशा देगा उन्होंने यह भी बताया कि कार्यक्रम में अधिकांश श्रोता सिविल सर्विसेज तैयारी करने वाले उम्मीदवार है , जो लाइब्रेरी के सम्मानीय पाठक है पुस्तक की लेखिका नेहा बंसल ने कविता लेखन में विचारों एवं भाव प्रस्तुति को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि उनकी पुस्तक महिलाओं की भावना को प्रतिबिंम्बित करता हुआ कविताओं का एक ऐसा कविता संग्रह है जो मानव ह्रदय को झंझोरता है और पौराणिक काल से ऐसी महिलाओं की वेदना को उजागर करता है जिनका दर्द अनकही कहानी बन कर रह गया था

लेखिका नेहा बंसल ने पुस्तक में मंदोदरी , उर्मिला , अहिल्या , यशोदा , शूर्पनखा ,हिडंबा , द्रौपदी जैसी ऐतिहासिक एवं पौराणिक महिला- पात्रों के साथ घटित मानसिक संताप एवं आधुनिक समकालीन महिलाएं जैसे निर्भया की वेदना को प्रस्तुत कर विचारणीय दर्द एवं उसके अहसास को जन मानस पहुंचाने का सफल प्रयास किया है ब्रजेश वर्मन सेवानिवृत आईपीएस अधिकारी पुस्तक पर प्रकाश डालते हुए बताया कि पुस्तक में उल्लेखित भाव अभिव्यक्ति सचमुच पाठक को भाव विभोर करती है जिसके लिए पुस्तक की एक कविता यशोदा को पढ़कर उनसे जुड़े भावों को अवगत कराते हुए लेखिका के प्रयास की मुक्त कंठ से प्रशंसा की विकास कुमार झा ब्यूरो चीफ माया एवं आउटलुक मैगज़ीन कहा कि हिस्ट्री में हिज शब्द है और लेखिका की पुस्तक का शीर्षक हरस्टोरी है जिसमें हर शब्द निहित है , जो सचमुच अंग्रेजी सब्दकोष को एक नया शब्द दिया है , और महिलाओं को शीर्ष पर ले जाता है उन्होंने कहा कि नेहा बंसल की पुस्तक पढ़ कर सुप्रसिद्ध छायावादी कवयित्री महादेवी वर्मा तथा डोगरी कवयित्री पद्मा सचदेव की कविताओं की याद दिलाता है , जो नेहा बंसल के उच्च कोटि की कविता के प्रयास की और इशारा करता है नेहा बंसल के पति एवं पुस्तक के प्रथम पाठक दिल्ली पुलिस के अत्यंत चर्चित एवं परिश्रमिक अधिकारी के रूप में पहचाने जाने वाले आईपीएस अधिकारी दीपक यादव उपायुक्त पुलिस दिल्ली पुलिस ने बड़े रोचक ढंग से अपनी बात रखते हुए कहा कि नेहा बंसल आंदोलनकारी है , इस बात पर उन्हें गर्व है क्योकि वह नारी के प्रति सम्मान भाव के आंदोलन की एक बहादुर योद्धा है कार्यक्रम का कुशल मंच संचालन स्वयं दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी के महानिदेशक डॉ० आर० के ० शर्मा ने कर जहा एक और अपनी साहित्य के प्रति रूचि का परिचय दिया दूसरी और महिलाओं के प्रति सम्मान एवं आस्था भाव को भी प्रदर्शित करता है

कार्यक्रम संयोजन में उर्मिला रौतेला सहायक पुस्तकालय एवं सूचना अधिकारी की विशेष भूमिका रही अंत में के० एस० राजू पुस्तकालय एवं सूचना अधिकारी ने सभी का आभार व्यक्त किया

Advertisement
Advertisement