✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

योगी, राजनाथ ने किया लखनऊ मेट्रो का उद्घाटन, कल से कर सकेंगे सफ़र

Advertisement

 

लखनऊ| केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को ट्रांसपोर्ट नगर रेलवे स्टेशन पर लखनऊ मेट्रो की पहली सेवा का उद्घाटन किया। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, राज्य सरकार के वरिष्ठ मंत्री, स्थानीय विधायक और केंद्रीय गृह और शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप पुरी सहित परियोजना के मुख्य सलाहकार ई. श्रीधरन भी इस मौके पर मौजूद थे।

8.5 किलोमीटर लंबी यह लखनऊ मेट्रो सेवा बुधवार से ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग रेलवे स्टेशन तक जनता के लिए खोल दी जाएगी।

Advertisement

इस अवसर पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में परियोजना के जल्द पूरा होने के पीछे रही टीम की सराहना करते हुए कहा कि मेट्रो से राज्य की राजधानी में यातायात की भीड़ घटेगी।

इस दौरान उन्होंने आश्वासन दिया कि लखनऊ मेट्रो परियोजना के अन्य चरणों पर काम जल्द से जल्द पूरा हो जाएगा।

आदित्यनाथ ने परियोजना के लिए यूरोपीय निवेश बैंक से ऋण उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया।

Advertisement

उन्होंने कहा कि कई अन्य शहरों में इसी तरह की परियोजनाओं के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) केंद्र सरकार को प्रस्तुत की गई है। आदित्यनाथ ने कहा कि मेट्रो रेल सेवाएं जल्द ही कानपुर, वाराणसी और झांसी के निवासियों और अन्य स्थानों के लिए भी उपलब्ध होंगी।
इस दौरान आदित्यनाथ ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर कटाक्ष करने का मौका नहीं छोड़ा, जिन्होंने इस परियोजना की शुरुआत की थी और वह उद्घाटन को लेकर पिछले कुछ दिनों से भारतीय जनता पार्टी सरकार को ताने मार रहे थे।

उन्होंने कहा कि इसके पहले परियोजना के उद्घाटन में कुछ लोग पहुंचे थे, लेकिन मंगलवार का कार्यक्रम बहुत भरा-भरा लग रहा है, क्योंकि यहां काफी सारे लोग आए हुए हैं।

बता दें कि समाजवादी पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने सोमवार को खुद ही लखनऊ मेट्रो के उद्घाटन का कार्यक्रम आयोजि किया था। उन्होंने मिठाइयां बांटी और अखिलेश यादव को लखनऊ को यह उपहार देने का श्रेय दिया।

Advertisement

इस कार्यक्रम में अखिलेश को आमंत्रित किया गया था। वहां कार्यक्रम में तो नहीं पहुंचे, लेकिन इस परियोजना के बारे में ट्विटर पर उन्होंने विचार व्यक्त किया, जिसकी शुरुआत उन्होंने की थी।

लखनऊ मेट्रो परियोजना को दो गलियारों, उत्तर-दक्षिण और पूर्व-पश्चिम में विभाजित किया गया है।

परियोजना के पहले चरण के लिए 6,928 करोड़ रुपये और दूसरे गलियारे पर 5,494 करोड़ रुपये लागत आने वाली है।

Advertisement

लखनऊ मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने आईएएनएस से कहा, “8.5 किलोमीटर के ट्रांसपोर्ट नगर और चारबाग खंड के बीच मेट्रो के प्राथमिकता गलियारे को केवल दो सालों में पूरा किया गया है, जो एक रिकॉर्ड है।”

उन्होंने कहा, “कोई और मेट्रो परियोजना अतीत में इस उपलब्धि को हासिल नहीं कर सकी है।”

मेट्रो परियोजना से जुड़े एक अधिकारी ने कहा, ” सभी नवीन उपायों के कारण लखनऊ मेट्रो पांच साल में परियोजना की पूरी लागत को हासिल करने में सक्षम होगी।”

Advertisement

–आईएएनएस

Advertisement