Delhi

NDMC द्वारा प्रदूषण स्तर को कम करने के लिए एंटी स्मॉग गन की शुरुआत की गयी

नई दिल्ली :नई दिल्ली में प्रदूषण स्तर को कम करने के लिए नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) ने एंटी स्मॉग गन के इस्तेमाल की शुरूआत की है । यह एक ऐसी मशीन है जो अपनी पानी की फुहार और बौछारों से प्रदूषण स्तर को कम करने में सहायक सिद्ध हो सकती है।

नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष  श्री धर्मेंद्र ने आज पालिका परिषद के सचिव अमित सिंगला और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में सेंट्रल पार्क, कनॉट प्लेस में एक एंटी स्मॉग गन का उद्घाटन किया।

यह एंटी-स्मॉग गन एक अति सूक्ष्म कोहरे को बनाने के लिए इस प्रकार डिज़ाइन की गयी है, जिससे यह बहुत महीन पानी की बूंदें (10 माइक्रोन से कम) उत्पन्न करती हैं। यह महीन पानी की बूंदें बड़े क्षेत्र में उच्च गति के पंखे की मदद से बौछार के माध्यम से फैलाई जाती हैं और इससे यह हवा में मौजूद छोटे धूल कणों को अवशोषित कर लेती हैं।

यह एन्टी स्मॉग गन से वायुमंडल में छिड़काव करके वायु प्रदूषण को कम करने के लिए विशेष तौर पर डिज़ाइन की गई है ताकि सभी धूल और प्रदूषण के कण का स्तर – पीएम 10 / 2.5 – स्तर तक कम हो जाएं।

एंटी स्मॉग गन मशीन का तकनीकी विशेषताएं : –

1. बौछार मारक क्षमता ( दूर तक फेंकने की क्षमता ) 100 mtrs (+ – 5%) .

2. पानी की छोटी बूंद का आकार : 30 माइक्रोन से 50 माइक्रोन तक ।

3. कवरेज क्षेत्र : 27000 से 37000 वर्गमीटर ।

4. मशीन रोटेशन कोण : 320 डिग्री .

5. ऊंचाई पिचिंग : 0 से 45 डिग्री .

6. पंखे की मोटर क्षमता : 37kw.

7.पानी की खपत : 250 लीटर प्रति मिनट की क्षमता .

8. नोक ( नोजल ) : एसएस 304 .

9. सुरक्षा का स्तर : आईपी-55 .

10. एजेंसी : मेसर्स क्लाउड टेक प्राइवेट लिमिटेड .

11. लागत : रुपये-13,00,000 / –

12. संचालन : वायर्ड रिमोट कंट्रोल के साथ संचालन।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Disable Adblock and Support us!