✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

NDMC ने डॉ नरेश त्रेहन द्वारा नागरिक सहभागिता और उनकी प्रेरणा के लिए इंटरैक्टिव वर्चुअल कार्यशाला का आयोजन किया गया

Advertisement

नई दिल्ली:कोविड -19 और इसके नए संस्करण – ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों के मद्देनजर, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) ने अपने ब्रांड एंबेसडर डॉ नरेश त्रेहन और सुश्री दीपा मलिक के साथ नागरिकों की सहभागिता के लिए और कोविड के बारे में  उचित व्यवहार परिवर्तन के लिए एक इंटरैक्टिव वर्चुअल कार्यशाला का आयोजन किया।

इस कार्यशाला में पालिका परिषद के अध्यक्ष- श्री धर्मेंद्र और सचिव-श्रीमति ईशा खोसला भी उपस्थित थे।

पालिका परिषद ने आज डॉ. नरेश त्रेहन के साथ कोविड महामारी की वर्तमान स्थिति पर कोविड उपयुक्त व्यवहार और उपचार पर दिशा-निर्देशों के साथ एक इंटरैक्टिव वर्चुअल वर्कशॉप का आयोजन किया। उन्होंने अपशिष्ट प्रबंधन के लिए सतत समाधान के रूप में समुदाय की सक्रिय भूमिका और वर्तमान परिदृश्य में कचरे को कम करने के लिए पृथक्करण की भूमिका के बारे में भी बताया।

Advertisement

प्रतिभागियों के साथ बातचीत करते हुए डॉ त्रेहन ने कहा कि यह एक गलत धारणा है कि ओमाइक्रोन के लक्षण हल्के और निम्न श्रेणी के हैं। अब, परिदृश्य बदल रहा है और आंकड़ों से पता चलता है इसकी प्रवृत्ति छह सप्ताह में चरम पर होगी। अगले छह सप्ताह अत्यंत महत्वपूर्ण होंगे। उन्होंने सलाह दी कि केवल मास्क का उपयोग करके ही इसके संक्रमण को रोका जा सकता है। उन्होंने आगे कहा कि टीकाकरण सहायक है लेकिन पूर्णत: ढाल नहीं है और हर किसी को  सम्पूर्ण एहतियात बरतने की जरूरत है।

कार्यशाला में रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्यूए), मार्केट / ट्रेडर्स एसोसिएशन (एमटीए), होटल और क्लब, स्कूलों के प्रमुख (एचओएस), सॉलिड एंड लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट में फ्रंटलाइन सुपरवाइजरी स्टाफ के प्रतिनिधियों और मेडिकल डॉक्टर्स (एलोपैथिक, आयुर्वेदिक तथा होम्योपैथिक) और पालिका परिषद के सभी विभागाध्यक्ष एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

अगले संवाद सत्र को सुश्री दीपा मलिक कल संबोधित करेंगी जो एक भारतीय एथलीट हैं। वह पैरालिंपिक में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला हैं। उन्होंने 2016 पैरालंपिक खेलों में शॉटपुट में रजत पदक जीता था। इससे पहले 42 साल की उम्र में 2012 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है तथा  2017 में प्रतिष्ठित पद्मश्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। उन्होंने एशियाई पैरा गेम्स 2018 में एक नया एशियाई रिकॉर्ड बनाया और लगातार 3 एशियाई पैरा खेलों (2010, 2014, 2018) में पदक जीतने वाली एकमात्र भारतीय महिला हैं। उन्होंने अब तक कुल मिलाकर 58 राष्ट्रीय और 23 अंतर्राष्ट्रीय पदक जीते हैं।

Advertisement
Advertisement