Khaas KhabarPolitics

राकेश सिन्हा: “कांग्रेस” और “चीन” के बीच जो समझौता हुआ उसे गलवा घाटी की घटना के बाद क्यों नहीं तोड़ा !

तिब्बत को चीन को भेंट देना सबसे बड़ी गलती थी। जब तक तिब्बत गुलाम है तब तक...

नई  दिल्ली : राज्यसभा संसद राकेश सिन्हा ने राहुल गाँधी के बारे में ट्वीट करते हुए लिखा है कि “बीजिंग से लेकर रावलपिंडी किसी का भी सहारा  RahulGandhi लेे सकते हैं  narendramodi का विरोध करने के लिए। विपक्ष का यह नया संस्करण भारतीय राजनीति में आया है।” उन्होंने लिखा कि कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के बीच में जो समझौता हुआ था उसे गलवा घाटी की बर्बर घटना के बाद क्यों नहीं तोड़ा ?

इसके बाद लोगो ने राकेश सिन्हा के इस पोस्ट पे कमेंट किये जिनमें ब्राह्मण रेजिमेंट ने लिखा कि ” भविष्य में जब भी युद्ध हो,बार्डर पर 100 फ़ीट लंबा बांस गाड़ कर पप्पू और उसके चमचे को उसपर बैठा दिया जाए। मंदबुद्धि को हर सवाल का जवाब अपने आप मिल जाएगा,कुछ भी पूछने की तकलीफ़ नहीं करनी पड़ेगी।”

See More: चीनी राष्ट्रपति ने कहा- सेना युद्ध के लिये तैयार रहे, PM Modi ने की समीक्षा, सीमा पर सैनिक बढ़ाये गये

एक और ट्वीटर यूजर ने लिखा कि ” कांग्रेस किसे मुर्ख बना रही है। चीन की सरकार और पार्टी का मतलब ही कम्युनिस्ट पार्टी है। कांग्रेस में बताए किस अधिकार से देश के प्रधानमंत्री को छोड़कर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष और उनके पुत्र को बुलाया गया। बहुत कुछ है कांग्रेस को बताने के लिए…”

See More: क्या भारत-चीन युद्ध हो सकता है ?

उन्होंने यह भी कहा की उन्हें बंदूक चलाना नहीं आता है पर शहादत देना ज़रूर आता है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Disable Adblock and Support us!