✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

इजरायल ने गाजा में दक्षिण की ओर जमीनी अभियान चलाने की योजना बनाई

Advertisement

नई दिल्ली, 28 नवंबर । इजरायली रक्षा बल (आईडीएफ) ने अपने जमीनी अभियान को दक्षिणी गाजा तक विस्तारित करने की योजना बनाई है, जिससे एन्क्लेव के उत्तर में भूमिगत हमास सैन्य बुनियादी ढांचे को लगभग साफ कर दिया गया है। एक इजरायली सैन्य अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

अधिकारी ने कहा कि आईडीएफ जमीनी हमले शुरू कर सकता है। युद्ध फिर से शुरू होने के बाद किसी भी समय दक्षिण में हमला कर सकता है।

दिल्ली में इजरायली दूतावास के रक्षा अताशे कर्नल अविचाई ज़फरानी ने गाजा में जमीन पर हमास के सैन्य बुनियादी ढांचे के बारे में संवाददाताओं से कहा, “सुरंगों की खोज की जा रही है।”

Advertisement

ज़फरानी के अनुसार, तटीय क्षेत्र में हमास के दो मुख्य ऑपरेशन उत्तर में स्थित गाजा पट्टी की सबसे बड़ी चिकित्सा सुविधा अल-शिफा अस्पताल में या उसके नीचे और दक्षिण में एक शहर खान यूनिस में थे।

उन्होंने कहा कि अस्पताल क्षेत्र में एंटी-टैंक विस्फोटक उपकरणों और खदानों सहित हथियारों और गोला-बारूद का जखीरा पाया गया, जिसके नीचे सुरंगें मौजूद हैं, जिनका इस्तेमाल हमास द्वारा किया गया था और एक मनोरंजन पार्क के पास एक सुरंग शाफ्ट और एक मस्जिद के पास एक रॉकेट लॉन्चर पाया गया था।

जाफरानी ने कहा, “सरकार ने आईडीएफ को दो उद्देश्य दिए थे – एक हमास को खत्म करना और दूसरा, बंधकों को रिहा कराना।”

Advertisement

7 अक्टूबर को इजरायल पर हमला करने वाले फ़िलिस्तीनी उग्रवादी समूह को इजरायली हवाई हमलों, ज़मीनी हमलों और नौसैनिक नाकाबंदी के माध्यम से कड़ी क्षति हुई है।

जाफरानी ने कहा, “हमास दबाव में है” और युद्धविराम को आगे बढ़ाने पर बातचीत करना चाहता है।

यह रिपोर्ट लिखे जाने तक दोहरी नागरिकता वाले 51 इजरायली बंधकों और 20 विदेशी बंधकों, जिनमें ज्यादातर इजरायल में थाई खेत मजदूर थे, को हमास ने इजरायल में 150 फिलिस्तीनी कैदियों को एक अदला-बदली सौदे के हिस्से के रूप में रिहा कर दिया था।

Advertisement

एक अनुमान है कि 168 बंधक अभी भी कैद में हैं, चाहे वह हमास का हो या किसी अन्य फिलिस्तीनी आतंकवादी संगठन का, जो 7 अक्टूबर को इजरायल में दाखिल हुआ था।

जब पूछा गया कि जब आईडीएफ दक्षिण में छापेमारी करेगा तो गाजा के नागरिक कहां शरण लेंगे, जाफरानी ने कहा कि संबंधित योजना की घोषणा जल्‍द की जाएगी।

युद्ध शुरू होने के बाद से अब तक हजारों लोग उत्तर गाजा स्थित अपने घरों से भागकर दक्षिण में शिविरों, स्कूलों और अन्य अस्थायी आवासों में शरण लिए हुए हैं। उन्हें जान बचाने के लिए जल्द ही फिर इलाका बदलना पड़ सकता है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि इजरायल का दक्षिणी गाजा में जमीनी हमला शुरू होने के बाद मानवीय आश्रय स्थल कहां स्थापित किए जाएंगे।

Advertisement

संयुक्त राष्ट्र के अनुमान के अनुसार, गाजा के 23 लाख लोगों में से 17 लाख विस्थापित हो चुके हैं।

युद्ध के आने वाले हफ्तों में रुकने की संभावना नहीं है, जब तक कि कोई कूटनीतिक सफलता न मिले। हमास द्वारा इजराइल पर रॉकेट से और जमीनी हमलों में 1,200 लोग मारे जा चुके हैं।

गाजा के हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय का हवाला देते हुए मध्य-पूर्व की मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि इजरायल के जवाबी हमलों में लगभग 14,000 फिलिस्तीनी मारे गए हैं।

Advertisement

इज़रायली अधिकारियों ने कहा है कि आईडीएफ ने बड़ी संख्या में हमास लड़ाकों को मार डाला है, लेकिन अब तक कुछ के अलावा कोई नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है।

–आईएएनएस

Advertisement

Advertisement

About Author