✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

थाना सदर बाजार टीम ने ऑपरेशन “विघाट” के तहत एक चोर को पकड़ा, कब्जे से चोरी का फोन किया बरामद

Advertisement

दो चोरों में से एक, जो पीड़ित व्यक्ति (दोपहिया पर सवार चालक) को घायल होने का बहाना बना बहस में उलझाता और फिर दूसरा साथी भी बहस में शामिल हो पीड़ित का मूल्यवान सामान जैसे मोबाइल फ़ोन और पर्स इत्यादि चोरी करभाग जाते है, को थाना सदर बाज़ार ने “ऑपरेशन विघात” के तहत गिरफ्तार किया ।
• एक आरोपी ने एक मोटरसाइकिल सवार पीड़ित को रोका, और उसे घायल करने के बहाने बहस करने लगे और मारपीट शुरू कर दी।
• इसी बीच उसका साथी आ गया और दोनों आरोपी पीड़ित का मोबाइल फोन लेकर भाग गए।
• ऑपरेशन विघात के तहत टीम ने तकनीकी जांच की और एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
• 120 से अधिक सी.सी.टी.वी. कैमरों की जांच की गई और उनका विश्लेषण किया गया।
• चोरी का मोबाइल फोन बरामद किया गया ।

थाना सदर बाजार की समर्पित टीम ने ऑपरेशन “विघाट” के तहत एक कुख्यात चोर को पकड़ा और उसके कब्जे से चोरी का मोबाइल फोन बरामद किया।

घटना:
शिकायतकर्ता श्री नासिर हुसैन निवासी खिरकी एक्सटेंशन, मालवीय नगर, नई दिल्ली, आयु-43 वर्ष, (जो एक इलेक्ट्रॉनिक दुकान में सहायक के रूप में कार्य करता है) ने अपनी शिकायत में बताया कि दिनांक 27.05.2022 को वह सदर बाजार मार्केट दिल्ली अपनी मोटरसाइकिल से खरीदारी के लिए आया था। शाम करीब 05:00 बजे वह अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर कुतुब रोड, सदर बाजार दिल्ली में पार्किंग के पास रास्ते में था कि अचानक एक व्यक्ति उनकी मोटरसाइकिल के सामने आया और उनसे बहस करने लगा कि उसने अपनी मोटरसाइकिल से उसे घायल कर दिया है। इसी बीच एक अन्य व्यक्ति वहां आया और बहस का फायदा उठाकर उसने शिकायतकर्ता का मोबाइल फोन उसकी जेब से निकाल लिया और दोनों मौके से फरार हो गए. तदनुसार, प्राथमिकी संख्या 374/22, दिनांक 27.05.2022, धारा 379/34 आई.पी.सी. के तहत थाना सदर बाजार में मामला दर्ज किया गया और जांच शुरू की गई।

Advertisement

टीम और जांच:
मामले की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए निरीक्षक प्रवेश कौशिक के नेतृत्व में एक पुलिस टीम, जिसमें एस.आई. विकास, प्रधान सिपाही सुमित, सिपाही नितिन और संजय शामिल थे, का गठन निरीक्षक कन्हैया लाल यादव, एस.एच.ओ. /थाना सदर बाजार की कड़ी निगरानी और सुश्री प्रज्ञा आनंद ए.सी.पी. / सदर बाजार के मार्गदर्शन में अपराधियों की पहचान करने और उन्हें पकड़ने के लिए किया गया था।
जांच के दौरान उपरोक्त पुलिस टीम ने घटना स्थल के आसपास लगे सी.सी.टी.वी. कैमरों की छानबीन की और अपराधियों द्वारा प्रयोग किए जाने वाले संभावित मार्गों की जांच की गई और उनका विश्लेषण किया गया। मुख्य सदर बाजार मार्केट, कुतुब चौक, सिंघारा चौक और आसपास के इलाकों के 120 से अधिक सी.सी.टी.वी. कैमरों का विश्लेषण करने के बाद, संदिग्ध व्यक्तियों को एक कैमरे में कैद पाया गया।
पुलिस टीम ने उपलब्ध सुरागों को विकसित करने और आरोपी व्यक्ति का पता लगाने के लिए अपने गुप्त स्रोतों को तैनात किया और संदिग्ध की पहचान की गई और सी.सी.टी.वी. फुटेज रिकॉर्ड से मिलान किया गया।

अंतत: टीम की मेहनत रंग लाई, जब सिपाही संजय को उक्त मामले में शामिल आरोपियों के बारे में जानकारी मिली। इसके बाद, छापेमारी की गई और आरोपी की पहचान विशाल उम्र -26 वर्ष के रूप में की गई, जिसको दिनांक 28/29.05.2022 की मध्यरात्रि में सिंघारा चौक, सदर बाजार, दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। उसकी तलाशी लेने पर उसके पास से शिकायतकर्ता का चोरी हुआ मोबाइल फोन, (रियलमी) बरामद किया गया। आरोपी ने खुलासा किया कि उसने अपने सह-आरोपी दीपेश उर्फ कालू के साथ मिलकर शिकायतकर्ता के साथ अपराध किया है।

पूछताछ:
पूछताछ के दौरान, आरोपी व्यक्ति विशाल, उम्र -26 वर्ष ने पीड़ितों से मोबाइल फोन और अन्य कीमती सामान चोरी / लूटने के अनूठे तौर-तरीकों का खुलासा किया।

Advertisement

बारदात का तरीका:
आरोपी व्यक्ति भीड़भाड़ वाले इलाके में स्कूटी या मोटरसाइकिल के एकल सवार को निशाना बनाते थे। एक आरोपी व्यक्ति चोट/दुर्घटना के बहाने स्कूटी/मोटरसाइकिल सवार को रोकता है, फिर वे उसका कॉलर/गर्दन पकड़कर उसके साथ मारपीट करते हैं और पीड़ित के पास से सामान जैसे पर्स, मोबाइल फोन आदि लेकर फरार हो जाते हैं।

आरोपी विशाल उम्र 26 साल अनपढ़ है और वह सदर बाजार के स्थानीय इलाके में ई-रिक्शा चलाता था और वह भी नशे का आदी है। वह अपने सहयोगी के साथ अपनी आजीविका कमाने और ड्रग्स की अपनी वासना को पूरा करने के लिए इस तरह के अपराध करता है।

आरोपी व्यक्ति का विवरण:
• विशाल निवासी वाल्मीकि नबी करीम, दिल्ली, आयु-26 वर्ष। (उसके पिछले पूर्ववृत्त अपराधिक रिकॉर्ड का सत्यापन किया जा रहा है)।
बरामदगी :

Advertisement

• 01 मोबाइल फोन, (रियलमी)।

मामले की आगे की जांच जारी है और सह-आरोपी दीपेश उर्फ कालू को पकड़ने और अधिक वसूली को प्रभावित करने के लिए छापेमारी की जा रही है।

Advertisement

Advertisement