✅ Janmat Samachar.com© provides latest news from India and the world. Get latest headlines from Viral,Entertainment, Khaas khabar, Fact Check, Entertainment.

NDMC ने कोविड-19 से लड़ने के लिए सजग-सतर्क -तैयार अभियान के अंतर्गत निगरानी शुरू की

Advertisement

नई दिल्ली” दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में बढ़ते COVID19 के मामलों को देखते हुए, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) के उपाध्यक्ष – श्री सतीश उपाध्याय ने आज सुबह नई दिल्ली में मोती बाग़ स्थित चरक पालिका अस्पताल में औचक निरीक्षण किया और Covid19 से संबंधित या  इसका नया संस्करण- Omicron की किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक निर्देश भी दिए ।

श्री उपाध्याय ने अस्पताल के आपातकालीन सेवाओं , आईसीयू वार्ड, ओपीडी ब्लॉक और अन्य स्थानों पर निदेशक (चिकित्सा सेवाएं), एनडीएमसी-डॉ डीएस गुंजियाल और वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी-डॉ राहुल के साथ दौरा किया ताकि कोविड-19 की तीसरी लहर या उसके नए संस्करण के किसी भी आगामी खतरे के लिए अच्छी तैयारी सुनिश्चित की जा सके ।

उन्होंने भारत के माननीय प्रधान मंत्री के दृष्टिकोण पर एनडीएमसी द्वारा नई दिल्ली क्षेत्र में शुरू किए जाने वाले COVID19 के खिलाफ लड़ने के लिए सजग-सतर्क-तैयार भारत अभियान पर भी चर्चा की। इस अभियान के अंतर्गत पालिका परिषद सम्पूर्ण क्षेत्र में एक ऐसा निगरानी तन्त्र सजग और सतर्क करेगी , जिससे किसी भी तरह की कोई अप्रिय स्थिति न हो और सभी स्थितियों पर नियंत्रण बना रहे । फिर भी कोई आपात स्थिति आये तो उसका इसके अंतर्गत उससे भी निपटा जा सके ।

Advertisement

श्री उपाध्याय ने पीएम-केयर्स फंड के तहत स्थापित अस्पताल में पीएसए ऑक्सीजन जेनरेटिंग प्लांट का निरीक्षण किया और साथ ही उन्होंने मेडिकल गैस पाइपलाइन सिस्टम और मैनिफोल्ड रूम का निरीक्षण किया और अच्छी तैयारी के लिए इनका मूल्यांकन भी किया।

श्री उपाध्याय ने मेडिकल टीम को पीपीई किट, दवाएं, टेस्टिंग रिएजेंट, किट , ऑक्सीमीटर इत्यादि का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। त्वरित प्रतिक्रिया के लिए आवश्यक ऑक्सीजन सांद्रता और अन्य उपकरण के साथ अन्य उपयोगी आवश्यक सामग्रियों को बनाए रखे जाने के लिये भी सुनिश्चित करने को कहा ।

Advertisement

उन्होंने टेस्टिंग टीमों को एनडीएमसी क्षेत्र में परीक्षण को बढ़ाने की योजना के साथ तैयार रहने का भी सुझाव दिया, यदि आवश्यक हो तो बहुत कम सूचना पर एसओपी/आकस्मिक योजना तुरंत तैयार की जाए। श्री उपाध्याय ने मेडिकल टीम को एनडीएमसी क्षेत्र में टीकाकरण के लिए कमर कसने और छूटी हुई आबादी के टीकाकरण के निर्देश भी दिए।

 एनडीएमसी क्षेत्र में तत्काल आधार पर काम करने के लिए कोविड -19 पृथकता केंद्रों को सक्रिय करने की योजना के बारे में भी जायजा लिया । आईसीयू देखभाल की आवश्यकता वाले किसी भी बीमार रोगी के निर्बाध स्थानांतरण के लिए कोविड -19 नामित अस्पतालों से जुड़ने की योजना का भी सुझाव दिया हैं।

श्री उपाध्याय ने संबंधित अधिकारियों को सामुदायिक स्तर पर कोविड के नए प्रकार के प्रसार को रोकने के लिए क्रमशः केंद्र और राज्य सरकार द्वारा जारी किए गए कोविड दिशानिर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किए।

Advertisement
Advertisement